झाँसी विद्यालय प्रशासन द्वारा नहीं ली जायेगी एडमीशन फीस राष्ट्रभक्त संस्था के पदाधिकारी व प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक सम्पन्न

0
17

सी। बीती 30 मई को राष्ट्रभक्त संस्था अध्यक्ष अंचल अडजरिया द्वारा लाॅकडाउन की अवधि में विद्यालयों की फीस के रियायत के सम्बन्ध में जिलाधिकारी को सौंपे ज्ञापन के बाद आज प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें विद्यालयों की फीस के सम्बन्ध में आवश्यक नियम तय किये गये।

सिटी मजिस्टेªट कार्यालय में आयोजित बैठक में सिटी मजिस्टेªट सलिल पटेल, डीआईओएस कोमल यादव, राष्ट्रभक्त संस्था अध्यक्ष अंचल अडजरिया समेत अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने वर्तमान में फीस के सम्बन्ध में नगर के विद्यालयों द्वारा अभिभावकों से की जा रही जबरदस्ती पर चर्चा की। चर्चा के दौरान तय किया गया कि शासनादेशानुसार कोई भी विद्यालय लाॅकडाउन की अवधि में किसी भी अभिभावक को शुल्क देने के लिए बाध्य नहीं करेगा और विद्यालय द्वारा किसी भी प्रकार की पैनाल्टी नहीं ली जायेगी। विद्यालय द्वारा वाहन शुल्क ना वसूलने पर भी सहमति व्यक्त की गयी। बैठक में तय किया गया कि कोई भी विद्यालय नोनर्गोइंग फैसिलिटी में एडमीशन नहीं लेगा। बैठक में बताया गया कि स्कूल के समय कोई भी कोचिंग संस्थान बच्चों को टयूशन नही पढ़ायेगा। सत्र 2020-21 में विद्यालय प्रशासन द्वारा शि़क्षाशुल्क में किसी भी प्रकार की बढ़ोतरी नहीं की जायेगी। जो शुल्क सत्र 2019-20 में लगता था वही शुल्क इस सत्र में लिया जायेगा। बैठक में बताया गया कि यदि कोई विद्यालय प्रशासन की इन बातों की अवहेलना करते हुए अभिभावक का उत्पीड़न करता है तो वह लिखित रूप से डीआईओएस को शिकायत कर सकता है। जिस पर कार्यवाही को अमल में लाया जायेगा। इसके साथ ही अधिकारियों ने बताया कि जिला मैनपुरी द्वारा जारी किये गये आदेश पर समीक्षा की जा रही है। जल्द ही इस विषय पर उच्च अधिकारियों द्वारा निर्णय लिया जायेगा। बैठक के दौरान बीएसए हरवंश कुमार, सीओ सिटी संग्राम सिंह, राष्ट्रभक्त संस्था से आरके दुबे, जयदीप खरे, किशोर तिवारी, बंटी आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here