पिछले 12 वर्षों से फरार हत्या का आरोपी ₹10000 का इनामी राव राजा आगनेय शस्त्र के साथ गिरफ्तार

0
32

प्रेस नोट जिला टीकमगढ़
पिछले 12 वर्षों से फरार हत्या का आरोपी ₹10000 का इनामी राव राजा आगनेय शस्त्र के साथ गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया ने बताया कि लगातार ऐसे फेरारी बदमाशों पर जो कई वर्षों से फरार हैं और अपनी फरारी के दौरान अपराध करते हैं और फिर फरार हो जाते हैं ऐसे भी प्रकरण ज्ञान में आए हैं कि ऐसे अपराधी अपनी पारिवारिक आपराधिक पृष्ठभूमि का फायदा लेकर अपने परिवार के सदस्यों को आगे बढ़ाकर क्षेत्र में अपना वर्चस्व बनाने की कोशिश करते हैं सूत्रों से यह भी ज्ञात हुआ है कि अपने वर्चस्व की होड़ में रहने वाले लोग इन्हीं फरार आरोपियों के संरक्षण में इनका नाम लेकर आमजन को दबाने का प्रयास कर गलत फायदा उठाने का कार्य कर रहे हैं ।
पिछले दिनों सतत रूप से इस प्रकार के फरारी बदमाश जिन पर इनाम घोषित है और वे काफी वर्षो से फरार चल रहे हैं और फरारी के दौरान ही अपराध कर जनता में भय का वातावरण निर्मित कर रहे हैं इस संबंध में लक्ष्य बनाकर पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया ने एसडीओपी जतारा प्रदीप सिंह राणावत ऐसे फरार अपराधियों को जो फरारी के द्वारा क्षेत्र में सक्रिय होकर आपराधिक तत्वों को आश्रय देकर आमजन को दबाने का कार्य कर रहे हैं उनके विरुद्ध ठोस जानकारी एकत्रित कर अच्छे अधिकारियों की टीम बनाकर ऐसे बदमाशों की तत्काल गिरफ्तारी हो सके जिससे यह लोग क्षेत्र में अशांति पैदा ना कर सके ।
आदेश के परिपेक्ष में एसडीओपी जतारा के द्वारा थाना प्रभारी जतारा उपनिरीक्षक आनंद सिंह परिहार को उक्त आशय की कार्यवाही के लिए कुछ बदमाशों के संबंध में जानकारी दी थी थाना प्रभारी जतारा के द्वारा तत्काल अपनी टीम को साथ लेकर एक प्रभावी कार्यवाही की जब उनके द्वारा सूचना पर विगत 12 वर्षो से फरार बदमाश राव राजा उर्फ राजू तनय बिक्रमजीत सिंह बुंदेला निवासी सेराई थाना थाना दिगौडा को 315 बोर के आगनेय शस्त्र और दो जिंदा कारतूस सहित कुंवरपुरा तिराहे पर दिगौडा रोड पर पकड़ा गया।
ज्ञातव्य है कि सन 2007 में बदमाश राव राजा सिंह ने अपने अन्य साथियों के साथ गांव सेराई के रूप सिंह घोसी एवं उसके परिवार के साथ मारपीट कर मुन्नी लाल पिता सुख सिंह घोसी की हत्या कर फरार हो गया था जिस पर से थाना दिगोड़ा में अपराध क्रमांक 115 /107 धारा 147 148 149 323 294 506 307 302 भादवी का पंजीबद्ध था और इसी फरारी के दौरान बदमाश ने पुनः मई 2008 को ग्राम धामना पार्टी हार के पागी तनय तुलसी काशी को डरा धमका कर उससे पैसों की मांग करना ना देने पर जान से मारने की धमकी दी थी जिस पर से राव राजा उर्फ राजू के विरुद्ध थाना निगोड़ा में अपराध क्रमांक 96/08 धारा 327 294 506 भादवी का पंजीबद्ध किया गया था फरारी के दौरान बदमाश राव राजा ललितपुर उसके बाद नोएडा दिल्ली में अमूल फैक्ट्री में और उसके बाद हरियाणा कोटा में गोल्फ कंपनी में गार्ड की नौकरी की जब इसको पता चला कि पुलिस का शिकंजा इस पर कस रहा है और पुलिस लगातार इसके पीछे है और वह पकड़ा जाएगा तो वह और पैसे बटोरने पैसे मिलने पर कहीं दूर भागने के लिए क्षेत्र में अपराध करने के लिए आ गया सूत्रों को ऐसी भी जानकारी मिली थी की तथाकथित रूप से स्वयं को दबंग कहने वाले ग्राम के कुछ लोग जो बदमाश की पारिवारिक पृष्ठभूमि से आए हैं इसका लाभ लेकर क्षेत्र में आमजन में एक भय का माहौल बनाए हुए हैं ऐसे वक्त में इस प्रकार के दुर्दांत बदमाश की गिरफ्तारी से क्षेत्र में यह संदेश गया है कि क्षेत्र में अशांति फैलाने वाले तत्वों का कोई स्थान नहीं है एवं ऐसे फरार और आपराधिक तत्वों के विरोध पुलिस लगातार कार्यवाही करती रहेगी
पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सजानिया द्वारा इस प्रशंसनीय कार्य के लिए थाना प्रभारी जतारा उपनिरीक्षक आनंद सिंह परिहार एवं आरक्षक 832 राहुल आरक्षक 865 जितेंद्र आरक्षक 528 अंकित राजावत एवं साइबर सेल से आरक्षक 371 रहमान खान को आरोपी पर घोषित ₹10000 का पारितोषिक देने की घोषणा की है।

टीकमगढ़ जिला ब्यूरो चीफ प्रमोद अहिरवार की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here