अलीगढ़: बिना पंजीकरण के चल रहे थे आकांशा और अंश हासिप्टल

44

प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शनिवार को संयुक्त रूप से कार्यवाही कर खैर बाईपास और खैर रोड पर बिना पंजीकरण के चल रहे आकांक्षा हास्पिटल और अंश हास्पिटल पर छापा मारा। इस दौरान दोनों ही जगह गंभीर अनियमितताएं मिलीं, जो मरीजों की जान के लिए खतरनाक थीं। दोनों हास्पिटल के आपरेशन थिएटरों को सील कर दिया गया है। दोनों हास्पिटल संचालकों को निर्धारित अवधि में सीएमओ कार्यालय आकर अपना जवाब दाखिल करने के लिए कहा गया है।शनिवार को प्रशासन की ओर से एसीएम द्वितीय अंजुम बी और एसीएमओ डॉ. पीके शर्मा के नेतृत्व में संयुक्त टीम खैर बाईपास पर पहुंची। यहां पर आकांक्षा हास्पिटल पर छापा मारा। डॉ. पीके शर्मा ने बताया कि इसका पंजीकरण ही नहीं था।
इसका आपरेशन थिएटर अवैध था। कौन सा डाक्टर, कब, क्या और कैसे इलाज कर रहा है, इसका कोई विवरण अस्पताल में नहीं था। पता चला कि यहां पर मेडिकल कालेज से भी कुछ डाक्टर आकर इलाज करते हैं। यहां पर ट्रेंड स्टाफ भी नहीं था। इसके आपरेशन थिएटर को सील कर दिया गया। इसी तरह खैर रोड पर अंश हास्पिटल की भी यही स्थिति थी।
इसके पास भी कोई पंजीकरण नहीं था। इसके आपरेशन थिएटर को भी सील कर दिया गया। टीम ने रामघाट रोड स्थित एक डायग्नोस्टिक सेंटर और अन्य हास्पिटल पर छापा मारा। यहां पर सभी व्यवस्थाएं ठीक मिलीं।
पूरा हास्पिटल सील करते तो यहां जो मरीज भर्ती हैं उन्हें तकलीफ हो जाती। वह एक दो दिन में यहां से चले जाएंगे। दोनों के आपरेशन थिएटर सील कर दिए गए हैं। दोनों झोलाछाप वाली स्थिति में चल रहे थे। मरीजों की जान को यहां बहुत ही खतरा है
– डॉ. पीके शर्मा, एसीएमओ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here